शरद नवरात्रि 2019 - जानिए दुर्गा पूजा की विधि और तिथियां

Sat 07-Sep-2019 10:47 am
इस बार अखंड साम्राज्य योग में विराजेंगी दुर्गा मां और हाथी पर सवार होकर आएंगी; पूरे नौ दिन का होगा नवरात्र महोत्सव...

शरदीय नवरात्र 29 सितम्बर से प्रारंभ हो रहे हैं, जो 7 अक्टूबर तक चलेंगे। हिन्दू पंचांग के अनुसार अश्विन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवरात्र का शुभारंभ होता है, जो नवमी तक चलता है। इन नौ दिनों में माता के नौ अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है, जिनमें मां शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चन्द्रघंटा, कुष्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्रि मां के नौ अलग-अलग रूप हैं।

इस बार नवरात्र पूरे नौ दिन के होंगे। मां दुर्गा हर नवरात्र में अलग-अलग वाहन पर सवार होकर आती हैं। इस बार मां दुर्गा हाथी पर सवार होकर आएंगी, जिससे भक्तों का मंगल ही मंगल होगा। इस बार मां अखण्ड साम्राज्य योग में विराजेंगी।

नवरात्र में होने वाले शुभ कार्य:- शारदीय नवरात्र में हर तरह के शुभ कार्य किए जा सकते हैं। नवरात्र के नौ दिन बहुत ही शुभ होते हैं। इन दिनों में किसी विशेष कार्य के लिए मुहूर्त देखने की जरूरत नहीं होती है। इन खास दिनों में लोग गृह प्रवेश और नए वाहन की खरीदारी कर सकते हैं।

दिन के अनुसार मां की पूजा की तिथियां...

  • दिन 1 (29 सितम्बर) - प्रतिपदा घट व कलश स्थापना, मां शैलपुत्री।
  • दिन 2 (30 सितम्बर) - द्वितीया: मां ब्रह्मचारिणी की पूजा।
  • दिन 3 (01 अक्टूबर) - तृतीया : मां चन्द्रघंटा की पूजा।
  • दिन 4 (02 अक्टूबर) - चतुर्थी : मां कुष्मांडा की पूजा।
  • दिन 5 (03 अक्टूबर) - पंचमी : मां स्कंदमाता की पूजा।
  • दिन 6 (04 अक्टूबर) - षष्ठी : मां कात्यायनी पूजा और मां सरस्वती की पूजा।
  • दिन 7 (05 अक्टूबर) - सप्तमी : मां कालरात्रि पूजा।
  • दिन 8 (06 अक्टूबर) - अष्टमी : मां महागौरी।
  • दिन 9 (07 अक्टूबर) - नवमी : मां सिद्धिदात्री।
  • दिन 10 (08 अक्टूबर) - दुर्गा विसर्जन, विजयादशमी पर्व, शस्त्र पूजन।

दुर्गा पूजा के लिए पूर्वी रेलवे द्वारा चलाई गई विशेष ट्रेनें...

Related Post